Aankhen shayari in Hindi

Aankhen shayari

Here is the Best Collection Of Aankhen Shayari in Hindi and English font with Images.  When you Love Someone then you feel to praise her or him. So these Shayaris will help you to express your feelings in a good manner. Eyes are not just the part of the body but it holds delightful dreams, love,  expressions, and feelings. It is always needed when you love someone to express your feeling with beautiful words. Expressing your thinking and feelings with shayaries will increase love, attraction, and understanding between both the partners.

To Ab Start Karte Hai Beautiful Shayaries On Eyes. Apne Doston Ke Sath Share Karna Na Bhule. Facebook, Instagram, Twitter Jahan Bhi Apka Account Ho Share Karen Aur Niche Bell Icon Ko Daba Kar Hame Subscribe Bhi Kar Len Taki Har New Post Ka Notification Apko Milta Rahe.

 

Aankhein  shayari | Ankhe shayari | Aankhe shayari in Hindi

Najar Shayari  -Aankhen shayari in Hindi

1. Pahli Najar Me Teri Aankhon Ne Mujhe Ghayal Kar Diya
Ab Kuch Dikhta Nahi Tere Siwa Is Jamane Me

पहली नजर में तेरी आंखों ने मुझे घायल कर दिया
अब कुछ दिखता नहीं तेरे सिवा इस ज़माने में

 

pahli najar -Aankhen shayari in Hindi

pahli najar Shayari


2. Jo Surur Hai Teri Aankhon Mein Vo Baat Kahan Maikhane Mein
Bas Tu Mil Jay To Kya Rakha Hai Is Zamane Mein

जो सुरूर है तेरी आंखों में वो वो बात कहां मयखाने में
बस तू मिल जाए तो क्या रखा है इस ज़माने में


3. Ek Najar Dekh Lo To Jine Ki Izazat Mil Jaye
Pahli Si Mohabbat Dil Mein Phir Se Khil Jaye

एक नजर देख लो तो जीने की इजाज़त मिल जाए
पहली सी मोहब्बत दिल में फिर से खिल जाए


4. Wo Bolte Rahen Aur Ham Khamosh Rahen
Jawab Aankhon Mein Thi Wo Juban Par Khojte Rahen

वो बोलते रहें और हम खामोश रहें
जवाब आंखों में थी वो जुबां पर खोजते रहें


5. Teri Najar Jo Mere Dil Me Utar Gayi
Ek Bar Mein Hi Mujhe Rajamand Kar Gayi

तेरी नज़र जो मेरी दिल में उतर गई
एक बार में ही मुझे रजामंद कर गई


6. Muskura Kar Jo Dekhle To Dil Par Waar Ho Jay
Jindagi Bhar Nibhane Wali Mujhe Pyaar Ho Jay

मुस्कुरा कर जो देखले तो दिल पर वार हो जाए
जिंदगी भर निभाने वाली मुझे प्यार हो जाए


Nigahen Shayari  -Aankhen shayari in Hindi

7. Uthti Nahi Nigahe Kisi Aur Ki Taraf
Paband Kar Diya Hai Teri Najar Mujhe
Hal To Ab Kuch Is Tarah Hai Mera Ki
Milta Na Sukun Din Bhar Mujhe

उठती नहीं निगाहें किसी और की तरफ
पाबंद कर दिया है तेरी नजर मुझे
हाल तो अब कुछ इस तरह है मेरा की
मिलता ना सुकून दिन भर मुझे

 

Nigahen -Aankhen shayari in Hindi

Nigahen Shayari


8. Jo Dekha Hai Meri Aankhon Ne Chehra Husn Sa
Unko Paane Ki Tamanna Hai Dil Mein Jaga

जो देखा है मेरी आंखों ने चेहरा हुस्न सा
उनको पाने कि तमन्ना है दिल में जगा


9. Aawaj De Rahi Hai Tarasti Meri Aankhen
Dekhe Hue Kisi Ko Zamana Gujar Gayen

आवाज दे रही है तरसती मेरी आंखें
देखे हुए किसी को ज़माना गुजर गए


10. Har Badshaah Ke Sar Par Taaj Nahi Hoti
Har Koi Jahan Mein Mumtaaj Nahin Hoti
Aankhen Bhi Byaan Kar Deti Hai Dil Ki Dastan
Mohabbat Lafzon Ki Mohtaaz Nahin Hoti

हर बादशाह के सर पर ताज नहीं होती
हर कोई जहां में मुमताज नहीं होती
आंखें भी बयां कर देती है दिल की दास्तां
मोहब्बत लफ्जो की मोहताज नहीं होती


Teri Aankhen Shayari

11. Aankhen Agar Niche Hai To Haya Ban Gayi
Aankhen Unchi Agar Hai To Duaa Ban Gayi
Aankhen Uth Kar Jhuk To Adaa Ban Gayi
Aankhen Jhk Kar Uthi To Kada Ban Gayi

आंखें अगर नीचे हो तो हया बन गई
आंखें अगर ऊंची हो तो दुआ बन गई
आंखें उठ कर झुकी तो अदा बन गई
आंखें झुक कर उठी तो कदा बन गई


12. Bin Manjil Ke Nikle The Ham Raahon Mein
Basi Hai Unki Tasweer Meri Aanhon Mein
Ruk Gayie mere Qadam Jab Padi Un Par Najar
Kuch To Jarur Baat Hai Unki Nigaahon Mein

बिन मंजिल के निकले थे हम राहों में
बसी है उनकी तस्वीर मेरी आंखों में
रुक गए मेरे क़दम जब पड़े उन पर नजर
कुछ तो जरूर बात है उनकी निगाहों में

 

Love shayari bhi padhna chahte hain? Read our 100+ Best Love Shayari in Hindi


muhabbat to teri ankhon ne agaz kiya  -Aankhen shayari in Hindi

13. Muhabbat To Teri Ankhon Ne Agaz Kiya Is Me Mera Kya Kusur,
Mai Begunah Hu Mujhe Kyu Mili Saja

मोहब्बत तो तेरी आंखों ने आगाज़ किया इसमें मेरा क्या कसूर
मैं बेगुनाह हूं मुझे क्यों मिली सजा

 

muhabbat to teri ankhon ne agaz kiya -Aankhen shayari in Hindi

muhabbat to teri ankhon ne agaz kiya -Ankhen shayari


14. Najro Se Najren Mila Kar To Dekho
Apni Baahon Mein Mujhko Sula Kar To Dekho
Jahan Ko Main Rakh Dun Teri Kadmo Ke Niche
Ek Baar Mujhse Mohabbat Kar Ke To Dekho

नज़रों से नजरें मिला कर तो देखो
अपनी बाहों में मुझको सुला कर तो देखो
जहां को मै रख दू तेरी क़दमों के नीचे
एक बार मुझसे मोहब्बत कर के तो देखो


15. Ankhon Mein Haya Hai Dil Mein Bebasi
Under Se Ishq Hai Aur Bahar Se Narajgi

आंखों में हया है दिल में बेबसी
अंदर से इश्क़ है और बाहर से नाराजगी


Mohabbat bhari Aankhen Shayari

16. Teri Aankhon Mein Mohabbat Ke Hain Aansun Dekhen
Kaise Maan Lun Ke Tune Mujhe Jaana Hi Nahin

तेरी आंखो में मोहब्बत के हैं आसूं देंखे
कैसे मान लूं के तूने मुझे जाना ही नहीं


17. Ek Shikayat Hai Mujhe Teri Katilana Aankhon Se
Gar Najren Mila Len To Neend Chali Jaati Hai Meri Aankho Se

एक शिकायत है मुझे तेरी कातिलाना आंखो से
गर नजरें मिला लें तो नींद चली जाती है मेरी आंखो से


18. Teri Aankhon Mein Ek Rang-E-Narajgi Thi
Kis Aetbar Se Ham Ishq Izhaar Karte

तेरी आंखों में एक रंग-ए-नाराज़गी थी
किस एतेबार से हम इश्क़ इजहार करते


Aakhon Ka Ishara  -Aankhen shayari in Hindi

Teri Akhon Ka Ishara Hi Kafi Hai Mere Dil Ko Manane Ke Liye

तेरे आंखों का इशारा ही काफी है मेरे दिल को मनाने के लिए

 

Aakhon Ka Ishara -Ankhen shayari

Aakhon Ka Ishara -Ankhen shayari


19. Asmaan Pe Taaron Ka Chalna Jam Ho Jay
Jo Dekhle Tujhko Meri Aankhen To Dil Ko Aaram Ho Jay
Tujhse Mujhe Ishq Kuch Is Tarah Ho Gayi Hai Ki
Arzoo Hai Ki Teri Baahon Mein Meri Akhiri Sham Ho Jaye

आसमां पे तारों का चलना जाम हो जाए
जो देखले तुझको मेरी आंखे तो दिल को आराम हो जाए
तुझसे मुझे इश्क़ कुछ इस तरह हो गई है कि
आरज़ू है कि तेरे बाहों में मेरी आखिरी शाम हो जाए


khoobsurat aankhen shayari

20. Kitni Khoobsurat Hai Aankhen Tumhari
Kash Ke Milan Ho Har Roj Hamari
Duniya Ki Doulat Na Chahiye mujhe
Agar Mil Jay Mohabbat Tumhari

कितनी खूबसूरत है आंखे तुम्हारी
काश के मिलन हो हर रोज हमारी
दुनिया की दौलत ना चाहिए मुझे
अगर मिल जाए मोहब्बत तुम्हारी


21. Jine Ki Tamanna Hai Teri Baahon Mein
Mera Dil Hai Chhupa Teri Nigahon Mein
Ji Karta Hai Dekhta Rahun Har Pal Teri Aankhon mein
Aur Rakhun Sath Tujhe Apni Har Raahon Mein

जीने की तमन्ना है तेरी बाहों में
मेरा दिल गई छुपा तेरी निगाहों में
जी करता है देखता रहूं हर पल तेरी आंखों में
और रखू साथ तुझे अपनी हर राहों में


22. Apne Jo Ek Bar Muskura Diya
Mere Dil Ko Dil Se Jhuma Diya
Kuch Kah Na Saka Juban Se Magar
Aankhon Ne Meri Dil Ki Dastan Suna Diya

आपने जो एक बार मुस्कुरा दिया
मेरे दिल को दिल से झुमा दिया
कुछ कह ना सका जुबां से मगर
आंखों ने मेरी दिल की दास्तां सुना दिया


Najar Aankhen shayari in Hindi

23. Pyar bhari Najron Se Jab Hame Dekhte Hai
Ek Pal Bhi Ham Thahar Na Paate Hain
Kaise Milaye Unki Aankho Se Ankhe
Suna Hai Apni Aankhon Se Apna Bana Late Hain

प्यार भरी नजरों से जब हमे देखते हैं
एक पल भी हम ठहर ना पाते हैं
कैसे मिलाऊं उनकी आंखो से आंखे
सुना है अपनी आंखो से अपना बना लेते हैं

 

Kabhi aapko pyar mein dard mila hai? Read our 100+ Top Sad Shayari in Hindi On Girlfriend.


Katilana Nigah Shayari   -Aankhen shayari in Hindi

24. Nighae Teri Katilana Jo Dekhle Mujhe To Mera Dil Bag Bag Ho Jay

निगाहें तेरी कातिलाना जो देख ले मुझे तो दिल बाग बाग हो जाय

 

Katilana Nigah Shayari

Katilana Nigah Shayari


25. Dilo Ki Dhadkane Bhi Mohabbat Ka Izhar Karti Hai
Juban Khamosh Rahti Hai Jab Aankhen Baat Karti Hai

दिलों की धड़कन भी मोहब्बत का इजहार करती है
जुबां खामोश रहती है जब आंखे बात करती है


Aankhen shayari for her

26. Jab Miri Aankhon Ne Tera Didar Karliya
Tahe Dil Se Usi Waqt Iqraar Kar Liya
NA Chhodenge Kabhi Ishq Ki Daman Jite Ji
Apni Jaan Ka Maine Hai Kasam Kha Liya

जब मेरी आंखों ने तेरा दीदार कर लिया
तहे दिल से उसी वक़्त इकरार कर लिया
ना छोड़ेंगे कभी इश्क़ का दामन जीते जी
अपनी जान का मैंने है कसम खा लिया


27. Diwana Hun Main Tera, Mujhe Zamana Sachcha Nahin Lagta
Mere Alawa Koi Tujhe Dekhe, Mujhe Achcha Nahin Lagta

दीवाना हूं मै तेरा मुझे मुझे ज़माना सच्चा नहीं लगता
मेरे अलावा कोई तुझे देखे मुझे अच्छा नहीं लगता


28. Andheri Raaton Mein Jugnu Ki Tarah Chamke
Teri Aankhon Me Taaron Ki Chamak Bas Gayi Hai

अंधेरी रातों में जुगनू की तरह चमके
तेरी आंखों में तारों की चमक बस गई है


29. Kitni Gahrayee Hai Najar-E-Ishq Mein
Dekhenge Kabhi Tumhari Ankhon Mein Dub Kar

कितनी गहराई है नजर-ए-इश्क़ में
देखेंगे कभी तुम्हारी आंखों में डूब कर


Aankhe Tadapti Hai Didar Ke Liye

30. Najane Kyu Aisa Ho Gya
Kuch Anjane Me Kuch Kaise Ho Gya
Ab Ye Meri Ankhe Tadapti Hai
Sirf Ek Didar ke liye

ना जाने क्यों ऐसा हो गया
अनजाने में कुछ कैसे ही गया
अब ये मेरी आंखें तड़पती है
सिर्फ एक दीदार के लिए

 

Aankhe Tadapti Hai Didar Ke Liye

Aankhe Tadapti Hai Didar Ke Liye


31. Khanjar Uthane Ki Jarurat Nahin Tujhe
Ek Najar Jo Dekh Le To Dil Ghayal Ho Jayega

खंजर उठाने की जरूरत नहीं तुझे
एक नज़र जो देखले तो दिल घायल हो जाएगा


Aankhen shayari For Girlfriend/Boyfriend

32. Touhin Kar Diyen Hain Meri Ishq Ki Najar Ko
Dekh Kar Mujhe Jo Mud Gyen Sharab Ki Taraf

तौहीन कर दिया है मेरी इश्क़ की नजर को
देख कर मुझे जो मूड़ गए शराब की तरफ


33. Dub Jaata Hai Har Dekhne Wala Teri Aankhon Mein
Na Jaane Dariya Basi Hai Ya Samandar Teri Aankhon Mein

डूब जाता है हर देखने वाला तेरी आंखों में
ना जाने दरिया बसी है या समंदर तेरी आंखो में


34. Uthti Nahi Nigahen Kisi Aur Ki Taraf
Paband Kar Gayi Hai Kisi Ki Najar Mujhe
Imaan Ki To Ye Hai Imaan Ab Kahan
Qafir Bana Gayi Teri Qafir Najar Mujhe

उठती नहीं निगाहें किसी और की तरफ
पाबंद कर गई है किसी की नजर मुझे
ईमान की तो ये है ईमान अब कहां
काफ़िर बना गई तेरी काफ़िर नजर मुझे


35. Ishq Ki Bahar Har Taraf Khil Jaay
Jahan Dekhe Teri Aankhen, Khushbu Bikhar Jaay

इश्क़ की बहार हर तरफ खिल जाए
जहां देखे तेरी आंखें खुशबू बिखर जाए


Muskurati Aankhen Shayari  -Aankhen shayari in Hindi

36. Ye Muskurati Teri Ankhe Mujhe Jina Haram Kar Deti Hai

ये मुस्कुराती तेरी आंखें मुझे जीना हराम कर देती है

 

Muskurati Aankhen Shayari :

Muskurati Aankhen Shayari :


37. Ham to fana ho gaye unki aankhon ko dekh kar
Na jaane wo kaise aayena dekhte honge

हम तो फना हो गए उनकी आंखों को देख कर
ना जाने वो कैसे आयना देखते होंगे


Khubsurat Aankhen shayari in Hindi

38. Ja raha hun muleqaat ki aash mein
Agar aankhen mila le to mohabbat hogi
Aur najre jhuka le to qyamat hogi

जा रहा हूं मुलेकात की आश में
अगर आंखे मिला के तो मोहब्बत होगी
और नजरे झुका ले तो क्यामत होगी


39. Aankhen meri hadtaal mein hai
Unki sirf ek hi maang hai ki
Jab tak didar na hogi
Tab tak meri raat na hogi

आंखें मेरी हड़ताल में है
उनकी सिर्फ एक ही मांग है कि
जब तक दीदार ना होगी
तब तक मेरी रात ना होगी


40. Tumhari husn ki agar did ho jay
Kasam in aankhon ki meri ied ho jay

तुम्हारी हुस्न कि अगर दिद ही जाए
कसम इन आंखों की मेरी ईद हो जाए

 

Aur Yeh Bhi Padhe : 100+  Best Chand shayari in Hindi for Girlfriend/Boyfriend


41. Samandar mein ishq ki laqeer ban gayi
Teri ek muleqaat se meri taqdeer ban gayi
Maine to bas ungliyaan ghumaya tha ret mein
Jab dekha to tumhari tasweer ban gayi

समंदर में इश्क़ की लकीर बन गई
तेरी एक मुलेक़ात से मेरी तकदीर बन गई
मैंने तो बस उंगलियां घुमाया था रेत में
जब देखा तो तुम्हारी तस्वीर बन गई


42. Tumharin aankhon mein jaadu kuch is tarah hai
Ye dil Bahalta hi nahin bahak bhi jaaya karta hai

तुम्हारी आंखों में जादू कुछ इस तरह है
ये दिल बहलता ही नहीं बहक भी जाया करता है


Aankhen Shayari for loved one:

43. Jab Jaagu To Khyal Tera Aye
Aur Jab Soun To Sapna Tera Aye
Najane In Ankho Ko Kyu Tu Hi Pasand Hai
Jab Band Karu To Tera Chehra Najar Aye

जब जागू तो ख्याल तेरे आए
और जब सोऊ तो सपना तेरा आए
ना जाने इन आंखो को क्यों तू ही पसंद है
जब बंद करू तो चेहरा तेरा नजर आए

 

Ankhen shayari

Ankhen shayari


44. Mil Gayi Mujhe Jawab Har Sawal Ka Tujhse
Muskura Kar Jo Tune Hai Dekh Liya Mujhe

मिल गई मुझे जवाब हर सवाल का तुझसे
मुस्कुरा कर जो तूने है देख लिया मुझे


45. Jab Bhi Dekhun To Wo Chhupa Leti Hai Najren
Maine Kagaj Par Bhi Bana Ke Dekhi Hai Aankhen Unki

जब भी देखूं तो वो छुपा लेती है नजरें
मैंने कागज पर भी बना कर देखी है आंखे उनकी


46. Neend Ki Aalam Mein Bhi Didar Jo Hua Unka
Pasand Aaya Muskurakar Najren Chupaana Unka

नींद की आलम में भी दीदार जो हुआ उनका
पसंद आया मुस्कुराकर नजरें छुपाना उनका


47. Jab Ishq Ki Batein Hon To Aankhon Ko Baat Karne Do
Dil Par Haath Rakh Kar Jubaan Ko Khamosh Rahne Do

जब इश्क़ की बातें हो तो आंखों को बात करने दो
दिल पर हाथ रख कर जुबां को खामोश रहने दो


48. Apni Najron Ko Niche Rakha Karo Hasino
Ham Aashiq Hain Najro Par Hi Waar Kiya Karte Hain

अपनी नज़रों को निचे रखा करो हसीनो
हम आशिक़ है नज़रों पर ही वार किया करते हैं


49. Didar Karne Ki Khawish Jb Se Hai Dil Mein Jagi
Wo Aankhen Chhupa Ke Ghar Se Hain Nikalne Lagi

दीदार करने की ख्वाहिश जब से दिल में जगी
वो आंखें छुपा कर घर से निकलने लगी


Top Aankhen shayari in Hindi

50. Bhul Jaata Hun Zamana Teri Aankhon Ko Dekhne Ke Baad
Wo Koun Si Nasha Jo Bhari Hai Teri Nigahon Mein

भूल जाता हूं ज़माना तेरी आंखों को देखने के बाद
वो कौन सी नशा जो भरी है तेरी निगाहों में


51. Khahish Badal Gayi Hai Tujhe Dekhne Ke Baad
Mil Jay Tu Mujhe Bas Rab Se Hai Yahi Faryaad

ख्वाहिश बदल गई है तुझे देखने के बाद
मिल जाए तू मुझे बस रब से है यही फरियाद


52. Gar Sikhna Hai Kuch To Aankho Ko Padhna Sikhlo
Warna Lafz Ke Matlab To Hajar Nikla Kartein Hain

गर सीखना है तो आंखों को पढ़ना सीखलो
वरना लफ्ज़ के मतलब तो हजार निकला करते हैं


53. Kar Na Saka Faisla Tujhe Dekhne Ke Baad
Fouran Dil Ko Mohabbat Ho Gayi Tujhse

कर ना सका फैसला तुझे देखने के बाद
फ़ौरन दिल को मोहब्बत गो गई तुझसे


Aankhon Mein Doobna Shayari :

54. Na Jane Kyu Dub Jata Hu Teri Aankhon Me, Pata Nhi Ye Dariya Hai Ya Samandar

ना जाने क्यों डूब जाता हूं तेरी आंखों में
पता नहीं ये दरिया है या समंदर

 

Aankhon Mein Doobna Shayari :

Aankhon Mein Doobna Shayari


55. Muleqat Agar Hui To Puchenge Teri Aankhon Se
Kisne Sikhaya Hai Tujhe, Najron Se Dil Ko Ghayal Karna

मुलक़ात अगर हुई तो पूछेंगे तेरी आंखों से
किसने सिखाया है तुझे नजरो से दिल को घायल करना


56. Aaj Badi Shiddat Se Sulaya Hai Maine
Apni Aankhon Ko Teri Khwab Ka Lalach Dekar

आज बड़ी शिद्दत से सुलाया है मैंने
अपनी आंखों को तेरी ख्वाब का लालच देकर


Best Aankhen shayari in Hindi

57. Na Mahfil Ajeeb Hai Na Manjar Ajeeb Hai
Bas Waar Karne Wale Ki Khanjar Ajeeb Hai
Na Nikalne Deta Hai Na Doobne Deta Hai
Unki Aankhon Ki Wo Samandar Ajeeb Hai

ना महफ़िल अजीब है ना मंजर अजीब है
बस वार करने वाले की खंजर अजीब है
ना निकलने देता है ना डूबने देता है
उनकी आंखों का समन्दर अजीब है


58. Chhupa Kar Rakhi Thi Jo Baat Jubaan Ne Kayi Muddat Se
Milte Hi Aankhon Ne Aj Use Byaan Kar Diyaa

छुपा कर रखी थी जो बात जुबां ने कई मुद्दत से
मिलते ही आंखों ने आज उसे बयां कर दिया


59. Kaise Mita Sakega Ye Toofan Wo Manjar
Jo Paththar Ki Laqeer Sa Meri Aankhon Mein Likha Hai

कैसे मिटा सकेगा तूफ़ान वो मंजर
जो पत्थर की लकीर सा मेरी आंखों में लिखा है


60. Mujhse Najre Milane Se Pahle Soch Lo
Agar Utha Liya To Mohabbat Hogi, Jhuka Liya To Qyamat

मुझसे नज़रें मिलाने से पहले सोच लो
अगर उठा लिया तो मोहब्बत होगी झुका लिया तो क्यामत


61. Tuhse Najre Mili To Dard Bhul Gayen Ham
Dil-O-Jaan Se Teri Ishq Mein Ghul Gayen Ham
Jahan Har Bat Ko Inkar Karne Ki Aadat Thi Mujhe
Aj Teri Har Baat Ko Kabool Gayen Ham

तुझसे नजरें मिली तो दर्द भूल गए हम
दिल-ओ-जान से तेरी इश्क़ में घुल गए हम
जहां गर बात को इनकार करने की आदत थी मुझे
आज तेरी हर बात को कबूल गए हम


2 Line Aankhen Shayari

62. Aankhon Se Dur Na Jaaya Karo Ye Dil Rah Na Payega
Tere Bin Tera Ashiq Aakhir Kaise Ji Payega?

आंखों से दूर ना जाया करो ये दिल रह ना पाएगा
तेरे बिन तेरा आशिक़ आखिर कैसे जी पाएगा


63. Teri Tasveer Bana Liya Hun Main Apne Aankhon Mein
Ke Soun To Dikhe Tu Aur Jagu To Dikhe Tu

तेरी तस्वीर बना लिया हूं में अपनी आंखों में
के सोऊ तो दिखे तू और जागु तो दिखे तू


64. Na Utha Najren Apni Asmaan Ki Taraf
Agar Chand Bhi Dekh Le To Tera Diwana Ho Jaaye

ना उठा नजरें अपनी आसमां की तरफ
अगर चांद भी देखले तो तेरा दीवाना हो जाय


Ishq Ka Aagaz Shayari :

65. Mera Ishq Ka Agaz Hua Hai Teri Ankho Ko Dekhkar.

मेरी इश्क़ का आगाज़ हुआ है तेरी आंखों को देख कर

 

Ishq Ka Aagaz Shayari : -Ankhen shayari in Hindi

Ishq Ka Aagaz Shayari -Ankhen shayari


66. Jo Dekha Tha Tune Aankh Bhar Mujhe
Bas Gayi Ho Mere Dil Ke Har Kone Mein
Jo Maja Hai Tujhe Pakar Is Jindagi Mein
Wo Maja Nahin Hai Kisi Aur Ke Hone Mein

जो देखा था तूने आंख भर मुझे
बस गई हो मेरे दिल के हर कोने में
जो मजा है तुझे पाकर उस जिंदगी में
वो मजा नहीं है किसी और का होने में


67. Na Dekha Karo Yun Sharma Kar Mujhe
Ye Dil Nadan Hai Mohabbat Kar Baithega

ना देखा करो यूं शर्मा कर मुझे
ये दिल नादान है मोहब्बत कर बैठेगा


68. Tumhari Aankhon Se Jab Meri Aankhe Mili Hai
Dil Mein Mohabbat Ki Ek Chahat Jagi Hai
Yu To Kabhi Chaha Nahin Humne Kisi Ko Magar
Tumhari Yaadein Dil Ki Gahriyon Mein Basi Hai

तुम्हारी आंखों से जब मेरी आंखें मिली है
दिल में मोहब्बत की एक चाहत जगी है
यूं तो कभी चाहा नहीं हमने किसी को मगर
तुम्हारी यादें दिल की गहराइयों में बसी है


69. Marham Na Lagao Meri Jakhmo Par Logo
Mujhe Wo Marj Hai Jiska Ilaj Unki Aankhon Mein Hai

मरहम ना लगाओ ज़ख्मों पर ए लोगो
मुझे वो मर्ज है जिसका इलाज उनकी आंखों में है


70. Chura Leti Hai Najre Har Baar Wo Mujhse
Maine Kagaj Par Bhi Unki Aankhi Bana Kar Dekha Hai

चुरा लेती है नजरे हर बार वो मुझसे
मैंने कागज पर भी उनकी आंखे बना कर देखी है


71. Ishq Ki Baatien Hua Karti Hai In Aankhon Se
In Aankhon Ko Juban Nahin, Magar Ye Bejuban Bhi Nahi

इश्क़ की बातें हुआ करती है इन आंखो से
इन आंखों को जुबां नहीं, मगर ये बेजुबां भी नहीं


72. Rab Hi Bachaye Mujhe Teri Katilana Aankhon Se
Farishta Ho To Bahak Jay Main To Phir Bhi Insaan Hun

रब ही बचाए मुझे तेरी कातिलाना आंखो से
फरिश्ता हो तो बहक जाए मै तो फिर भी इंसान हूं


Nashili Aankhen Shayari In Hindi

73. Wo Nashili Aankhon Ka Jab Se Didar Ho Gaya Hai
Jina Mera Jahan Mein Duswaar Ho Gaya Hai

वो नशीले आंखों का जब से दीदार हो गया है
जीना मेरा जहां में दुष्वार हो गया है


74. Sharab Ki Kiya Hasiyat Jo Mujhe Nasha Dila De
Wo Agar Dekh Le Ek Najar To Sharab Ki Auqaat Bhula De

शराब की क्या हैसियत जो मुझे नशा दिला दे
वो अगर देख ले एक नजर तो शराब की औकात दिखा दे


75. Wo Nasha Sharab Mein Kahan Jo Tumhari Aankhon Mein Hai
Wo Maja Zamane Mein Kahan Jo Tumhari Baton Mein Hai

वो नशा शराब में कहां जो तुम्हारी आंखों में है
वो मजा ज़माने में कहां जो मजा तुम्हारी बाहों में है


Nighahen Niche Karlo Shayari :

76. Thoda Apni Nighahe Niche Karlo Malika-Ne-Shahiba
Ham Aashique Hai, Rah Na Payenge Teri Najro Dekhne k Bad

थोड़ा अपनी निगाहें नीचे कर लो मलिकाने शहीबा
हम आशिक़ है रह ना पाएंगे तेरी नज़रों को देखने के बाद

 

Nighahen Niche Karlo -Aankhen shayari in Hindi

Nighahen Niche Karlo Shayari :


77. Hoth Lachile Tere Aankh Nashile
Kash Ke Teri Ishq Ki Do Bund Pee Len

होंट नशीले तेरे आंख नशीले
काश के तेरे इश्क़ के दो बूंद पी लें


78. Ishq Ki Phul Khilte Hain Tere Aankhon Mein
Main Diwana Ho Gaya Teri 2-4 Muleqaton Mein

इश्क़ की फूल खिलते हैं तेरे आंखों में
मैं दीवाना हो गया तेरी 2-4 मुलेकातों में


79. Wo Chhupa Rahen The Raaj Mujhse
Meri Dil Ne Unki Aankhen Padhli

वो छुपा रहें थे राज़ मुझसे
मेरी दिल ने उनकी आंखें पढ़ ली


80. Kiya Likhun Main Ke Mere Hath Ruk Gaye
Meri Aanko Se Jo Do Bund Tapak Gaye
Ishq Mein Rona To Jahir Hai Lekin
Kaise Sambhalu Khudko Jo Mere Dil Tut Gaye

क्या लिखूं मैं के मेरे हाथ रुक गए
मेरी आंखों से हो दो बूंद टपक गए
इश्क़ में रोना तो ज़ाहिर है लेकिन
कैसे संभालू मै खुद को जो मेरे दिल टूट गए


2 Line Shayari On Eyes

81. Teri Aankhon Ki Qabiliyat Se Tu Mashroof Nahin
Ye Use Jina Sikha Deti Hai Jise Marne Ka Shouq Ho

तेरी आंखो की काबिलियत से तू मशरूफ नहीं
ये उसे जीना सिखा देती है जिसे मरने का शौक हो


82. Jism To Dhaki Thi Naqab Se Magar
Unki Aankhon Ne Mujhe Ishq Kara Diya

जिस्म तो ढकी थी नक़ाब से मगर
उनकी आंखों ने मुझे इश्क़ करा दिया


83. Tum Agar Chup Ho To Kya Hua
Tumhari Ankhe Haqiqat Byan Kar Rahi Hai

तुम अगर चुप हो तो क्या हुआ
तुम्हारी आंखे हकीकत बयां कर रही है


84. Hajaron War Zamane Ka Ho Agar To Sah Lenge Ham
Gar War Unki Aankhon Ka Ho To Pighal Jayenge Ham

हजारों वार अगर ज़माने का हो तो सह लेंगे हम
गर वार उनकी आंखों का हो तो पिघल जायेंगे हम


85. Ishq Mein Aksar Ye Haal Hota Hai
Aankho Ko Jab Bhi Kisi Par Malal Hota Hai
Banana Chahte Hain Jise Hamsafar
Wo Kisi Aur Ka Gulaal Hota Hota Hai

इश्क़ में अक्सर ये हाल होता है
आंखो को जब भी किसी को मलाल होता है
बनाना चाहते है जिसे हमसफ़र
वो किसी और का गुलाल होता है


86. Sukun Paane Ki Chahat Mein Aankhe Milayee Thi
Hame Kiya Pata Tha Ki Dil Ki Dard Aur Badh Jaayegi

सुकून पाने की चाहत में आंखे मिलाई थी
हमे क्या पता था कि दिल का दर्द और बढ़ जाएगा


Khwab Ka Lalach Shayari :

87. Badi Mushkil Se Apni Ankho Ko Sulata Hu Tere Khwab Ka Lalach Dekar

बड़ी मुश्किल से अपनी आंखों को सुलाता हूं तेरी ख्वाब का लालच देकर

 

Khwab Ka Lalach Shayari -Ankhen shayari

Khwab Ka Lalach Shayari -Ankhen shayari


88. Hajaron Sawal The Dil Mein Puchne Ke Liye
Ek Najar Se Unhone Sare Jawab De Diye

हजारों सवाल थे दिल में पूछने के लिए
एक नज़र से उन्होंने सारा जवाब दे दिया


89. Ishq-E-Dard Mein Gujri Hai Jawani Meri
Ek Dard-E-Dil Hai Pyar Ki Nishani Meri
Aankhon Mein Kya Dhundte Ho Kahani Meri
Aansuon Mein Rahne Ki Aadat Hai Purani Meri

इश्क़-ए-दर्द में गुजरी है जवानी मेरी
एक दर्द-ए-दिल है प्यार की निशानी मेरी
आंखो में क्या ढूंढते हो कहानी मेरी
आंसूओं में रहने की आदत है पुरानी मेरी

Aankhen shayari in Hindi


90. Tere Bin Mere Jindagi Mein Kya Rah Jayega
Mai To Jinda Rahunga Magar Mera Dil Mar Jayega
Aankhon Mein Aansuon Ki Nadiyaan Rahenge Aur
Khyaalon Mein Teri Yaadon Ka Kahar Rah Jayega

तेरे बिन मेरे जिंदगी में क्या रह जाएगा
मै तो जिंदा रहूंगा मगर मेरा दिल मर जाएगा
आंखो में आंसुओ कि नदियां रहेंगे और
ख्यालों में तेरी यादों का कहर रह जाएगा


Status on Eyes

91. Najre Jhuka Kar Chalta Hun Main Shahar Mein
Suna Hai Wo Aankhon Se Ghayal Kar Diya Karte Hain

नजरे झुका कर चलता हूं मैं शहर में
सुना है वो आंखो से घायल कर दिया करते है


92. Shor Na Kar Dhadkan Mere Aankhon Me Intekhab Aaya Hai
Tham Ja Kuch Pal Jara, Sadiyon Baad Unka Khwab Aaya Hai

शोर ना कर मेरे धड़कन मेरे आंखो में इंतेखाब आया है
थम जा कुछ पल जरा सदियों बाद उनका ख्वाब आया है


93. Unki Tasweer Basi Hai Meri Aankhon Mein
Aur Wo Kahte Hain Ki Pahchante Nahin Ho

उनकी तस्वीर बसी है मेरी आंखो में
और वो कहते है कि पहचानते नहीं हो


Aankhen shayari

94. Njar Ko Najar Ki Khabar Na Lage
Koi Acha Bhi Mujhe Is Qadar Na Lage
Dekha Hun Main Aapko Us Najar Se
Jis Najar Se Aapko Najar Na Lage

नजर को नजर की खबर ना लगे
कोई अच्छा भी मुझे इस क़दर ना लगे
देखा हूं मैं आपको उस नजर से
जिस नजर से आपको नजर ना लगे


95. Wo Koun Si Baat Thi Jo Juban Pe Aa Kar Ruk Gayi
Wo Koun Si Raaj Thi Jisse Tumhari Najren Jhuk Gayi

वो कौन सी बात थी जो जुबां पर आकर रुक गई
वो कौन सी राज़ थी जिससे तुम्हारी नजरें झुक गई


96. Wo Chhup Chhup Kar Mujhe Dekhte Rahe
Jab Maine Najre Milayee To Sharma Gayen

वो छुप छुप कर मुझे देखते रहें
जब मैंने नजरें मिलाई तो शर्मा गए


97. Na Jane Koun Si Nasha Hai Teri Bahon Mein
Ek Ajab Si Jaadu Hai Teri Aankhon Mein
Meri Dil Ki Dhadkanon Mein Bas Gaye Ho Tum
Tujhe Pane Ki Chah Liye Firta Hun Dargaahon Mein

ना जाने कौन सी नशा है तेरी बाहों में
एक अजब सी जादू है तेरी आंखों में
मेरी दिल की धड़कनों में बस गए हो तुम
तुम्हे पाने की चाह लिए फिरता हूं दरगाहों में


Teri Najar Shayari :

98. Aise Pyar Se Na Dekha Kare Mujhe Teri Har Ek Najar Me Sau Ummeeden Ban Jati Hai.

ऐसे प्यार से ना देखा करें मुझे
तेरी हर एक नजर में सौ उम्मीदें बन जाती है

 

Teri Najar Shayari -Ankhen shayari

Teri Najar Shayari -Aankhen shayari in Hindi


99. Ye Kaid Khana Hai, Bin Salakhon Ke
Kuch Yun Chahrche Hain Tere Aankhon Ke

ये कैदखाना है बिन सलाखों के
कुछ यूं चर्चे है तेरे आंखो के


100. Wo Pooche, Kaise Pahchan Lete Ho Naqab Mein Bhi Hajaron Ke Beech
Mai Muskura Kar Kaha Teri Aankhon Se Hi Ishq Hua Tha Hajaron Ke Beech

वो पूछे कैसे पहचान लेते हो नक़ाब में भी हजारों के बीच
मै मुस्कुरा कर कहा तेरी आंखों से ही इश्क़ हुआ था हजारों के बीच


101. Ye Aayna Nahi Bata Sakti Teri Khubsurti Ki Haqiqat
Asliyat Janna Ho To Meri Aankhon Mein Dekha Karo

ये आईना नहीं बता सकती तेरी खूबसूरती की हकीकत
असलियत जानना हो तो मेरी आंखो में देखा करो


102. Tumhari Aankhen Uthi To Dua Ban Gayi
Tumhari Aankhen Jhuki To Ada Ban Gayi
Agar Jhuk Kar Uthi To Haya Ban Gayi
Agar Uth Kar Jhuki To Sada Ban Gayi

तुम्हारी आंखे उठी तो दुआ बन गई
तुम्हारी आंखे झुकी तो अदा बन गई
अगर झुक कर उठी तो हया बन गई
अगर उठ कर झुकी तो कदा बन गई


Aankhen Shayari Romantic

103. Mujhse Milo To Najre Utha Liya Karo
Mujha Pasanad Hai Teri Aankho Mein Dekhna

मुझसे मिलो तो नज़रे उठा लिया करो
मुझे पसंद है तेरी आंखों में देखना


104. Jab Jab Tumhari Aankhon Ko Main Dekhta Hun
Duniya Bhula Kar Yaado Mein Kho Jaaya Karta Hun

जब जब तुम्हारी आंखो को में देखता हूं
दुनिया भुला कर तेरी यादों में खो जाया करता हूं


105. Meri Bas Mein Agar Hota To Hata Kar Chand Tare Ko
Teri Chmakti Aankhon Ko Asman Pe Laga Diya Hote

मेरी बस में अगर होता तो हटा कर चांद तारे को
तेरी चमकती आंखों को आसमां पे लगा दिया होता


106. Kayee Bar Marna Chaha Dub Kar Unki Aankhon Mein
Wo Najre Jhuka Lete Hai Aur Hame Marne Nahin Dete

कई बार मरना चाहा उनकी आंखों में डूब कर
वो नजरे झुका लेते है और हमे मरने नहीं देते


107. Meri Neend Ko Shikwa Hai Meri Aankhon Se
Usko Aane Nahi Deta Teri Yaad Se Pahle

मेरी नींद को शिकवा है मेरी आंखों से
उसको आने नहीं देते तेरी याद से पहले


108. Kya Nasha Thi Teri Aankhon Mein
Ek Bar Dekh Liya To Lat Lag Gayi

क्या नशा थी तेरी आंखो में
एक बार देख लिया तो लत लग गई


Ankhon Ki Juban Shayari :

109. Hoti Hai Batein hi In Ankhon Se, In Ankho Ko Jubaan Nahi Hai Magar Bejubaan Bhi Nahi.

होती है बातें भी इन आंखों से
इन आंखों को जुबां नहीं है मगर बेज़ुबां भी नहीं

 

Ankhon Ki Juban Shayari :

Ankhon Ki Juban Shayari : Aankhen shayari in Hindi


110. Sharab Band Kare Lakh Zamane Waale
Jahan Mein Kam Nahin Aankhon Se Pilane Wale

शराब बंद करे लाख ज़माने वाले
जहां में कम नहीं आंखों से पिलाने वाले


2 line shayari on eyes

111. Na Milao Apni Aankhon Se Meri Aankho
Agar Ishq Ho Jayae To Galat Hame Na Thahrana

ना मिलाओ अपनी आंखों से आंखे
अगर इश्क़ हो जाय तो गलत हमे ना ठहराना


112. Kaise Byaan Karun Hal-E-Dil Ko
Meri Aankhon Mein Teri Tasweer Mujhe Sone Nahin Deti

कैसे बयां करूं हाल ए दिल को
मेरी आंखों में तेरी तस्वीर मुझे सोने नहीं देती


113. Kitni Ishq Bhari Thi Unki Aankhon Mein
Toota Dil Bhi Mere Mohabbat Kar Baitha

कितनी इश्क़ भरी थी उनकी आंखों में
टूटा दिल भी मेरे मोहब्बत कर बैठा


Aankhen shayari in Hindi

114. Teri Aankhon Me Jo Bas Jay Wo Khwaab Hun Main
Tere Naam Pe Jo Luta Jay Wo Pyaar Hun Main

तेरी आंखों में जो बस जाए वो ख्वाब हूं मै
तेरे नाम पे जो लूट जाए वो प्यार हूं मै


115. Kisi Ki Yaadon Me Tarasti Hai Aankhe
Ek Didar Ke Liye Tadapti Hai Aankhe
Aajao Mere Paas Ke Ab Mushkil Hai Jina
Harpal Tumhari Intejar Karti Hai Ye Aankhen

किसी की यादों में तरसती है आंखे
एक दीदार के लिए तड़पती है आंखे
आ जाओ मेरे पास के अब मुश्किल है जीना
हर पल तुम्हारी इंतेज़ार करती है ये आंखे


116. Ae Samandar Mai Teri Gahraiyon Se Hun Waqif
Unki Aankhein Tujhse Gahri Hai Jinka Main Hun Ashiq

से समंदर मैं तेरी गहराइयों दे हूं वाकिफ
उनकी आंखे तुझसे गहरी है जिनका मैं हूं आशिक़


117. Hamse Ab Parde Ki Baat Na Kijiye
Kuch Justajun Hai Jo Mujhe Jhukne Nahi Deti

हमसे अब पर्दे की बात ना कीजिए
कुछ जस्तुजू है जो मुझे झुकने नहीं देती


118. Jab Dekhun Unko To Ye Palke Khuli Rahti Hai
Chah Kar Bhi Najrein Jhuk Na Paati Hai
Dil Ko To Mana Lun Ae Dil Todne Wale Magar
Ye Aankhen Har Waqt Unhe Dekhne Ko Tarasti Hai

जब देखूं उनको तो ये पलके खुली रहती है
चाह कर भी नजरें झुक ना पाती है
दिल को तो मना लूं ए दिल तोड़ने वाले मगर
ये आंखे हर वक़्त उन्हें देखने को तरसती है


119. Tumhari Tarif Sunai Deti Hai Har Baaton Se
Ke Itne Charche Hain Tumhari Aankho Ke

तुम्हारी सुनाई देती है हर बातों से
के इतने चर्चे हैं तुम्हारी आंखों के


Unki Ankhon Ka Byaan Shayari :

120. Jo Unke Ankho Se Byaan Hote Hai Wo Lafzo Me Kahan Milte Hai

जो इनके आंखो से बयां होते हैं वो लफ़्ज़ों में कहां मिलते हैं

Unki Ankhon Ka Byaan Shayari : -Aankhen shayari in Hindi

Unki Ankhon Ka Byaan Shayari :


121. Jab Jab Wo Sawal Karte Hain
Meri Aankhen Jawab Deti Hai

जब जब वो सवाल करते ही
मेरी आंखे जवाब देती है


122. Shaam Gujri Fir Andheri Raat Aayi
Dhadakte Dil Mein Tumhari Yaad Aayi
Aankhon Ne Mahsoos Kiya Us Hawa Ko
Jo Tumhe Chhu Kar Hamare Paas Aayi

शाम गुजरी फिर अंधेरी रात आई
धड़कते दिल में तुम्हारी याद आई
आंखो ने महसूस किया उस हवा को
जो तुम्हे छु कर हमारे पास आई


123. Jo Surur Hai Unki Aankhon Mein Wo Baat Kahan Maikhane Mein
Bas Tu Mil Jay To Kya Rakha Hai Zamane Mein

जो सुरूर है उनकी आंखो में वो बात कहां मयखाने में
बस तू मिल जाय तो क्या रखा है ज़माने में


aankhen shayari in hindi and English

124. Ab To Milna Unse Mujhe Bahut Jaruri Ho Gaya
Suna Hai Meri Tasweer Basi Hai Unke Aankhon Mein

अब तो मिलना उनसे मुझे बहुत जरूरी हो गया
सुना है मेरी तस्वीर बड़ी है उनकी आंखों में


125. Bahut Badsuluk Hai Tumhari Nigahen
Apni Aankhon Pe Jara Palke Gira Do

बहुत बदसूलुक है तुम्हारी निगाहें
अपनी आंखे पर जरा पलके गिरा दो


126. Dard Ka Marham Khojne Teri Aankhon Mein Jhaka Tha
Kise Pata Tha Dil Ka Dard Aur Badh Jaayega

दर्द का मरहम खोजने तेरी आंखों में झांका था
किसे पता था दिल का दर्द और बढ़ जाएगा


Teri Nashili Aankhen Shayari In Hindi

127. Suna Hai Gahrayi Bahut Hai Teri Nashili Aankhon Mein
Ek Baar Mujhe Dubne Ki Izazat Mil Jay

सुना ही गहराई बहुत है तेरी आंखो में
एक बार मुझे डूबने की इजाज़त मिल जाय


128. Jab Bikhrega Teri Gaalon Pe Aankhon Ka Pani
Tab Ahsaas Hoga Ki Mohabbat Kise Kahte Hain

जब बिखरेगा तेरी गालों पे आंखो का पानी
तब अहसास होगा कि मोहब्बत किसे कहते हैं


129. Na Kat Ti Hai Rate Na Katti Hai Tanhai
Dil Ka Dard Hai Aankhon Se Utar Aayi
Bahut Dard Mila Hai Meri Aankhon Ko
Kuch To Meri Majboori Thi Kuch Unki Bewafai

ना कटती है राते ना कटती है तन्हाई
दिल का दर्द है आंखों से उतर आई
बहुत दर्द मिला है मेरी आंखों को
कुछ तो मेरी मजबूरी थी कुछ उनकी बेवफ़ाई


130. Barson Baad Jo Unka Didar Ho Gaya
Dil Ko Sukun Mila Aur Khushiyon Ki Barsat Ho Gaya
Jaban Kuch Byaan Kar Na Saka Magar
Aankhon Ne Dil Ki Kahan Suna Diya

बरसो बाद हो उनका दीदार ही गया
दिल को सुकून मिला और खुशियों की बरसात हो गया
जबां कुछ बयां कर ना सका मगर
आंखो ने दिल की कहानी सुना दिया


Katilana Ghayal Kar Dene Wali Nazar Shayari :

131.. Katilana Najar Se Jab Wo Milate Hai Najar
Ham Ghabra Jate Hai Aur Lagne Lagti Hai Dar
Suna Hai Ghayal Kar Deti Hai Unki Aankhein,
Kaoun Milay Us Katilana Najro Se Najar

कातिलाना नज़रों से जब वो मिलाते हैं नजर
हम घबरा जाते हैं और लगने लगता है डर
सुना है घायल कर देती है उनकी आंखे
कौन मिलाए उस कातिलाना नज़रों से नजर

 

Katilana Ghaya Kar Dene Wali Nazar Shayari -Aankhen shayari in Hindi

Katilana Ghaya Kar Dene Wali Nazar Shayari -Ankhen shayari


132. Agar Fir Kabhi Muleqaat Hui Hamari To
Juban Khamosh Rahegi Aur Aankhon Se Baat Hogi

अगर फिर कभी मुलकात हुई हमारी तो
जुबां खामोश रहेगी और आंखो से बात होगी


133. Jo  Alfaz Unki Aankhon Se Byaan Hoti Hai
Wo Alfaz Shayari Mein Kahan Milti Hai

जो अल्फ़ाज़ उनकी आंखों से बयां होती है
वो अल्फ़ाज़ शायरी में कहां मिलती है


Uff Ye Aankhen Shayari

134. Uff Ye Aankhen Mein Najane Koun Sa Jaadu Hai
Najarandaaj Jitna Bhi Karo Magar Najar Unhi Par Jaati Hai

ना जाने कौन सा जादू है उनकी आंखों में
नजरअंदाज जितना भी करो मगर नजर उन्हीं पर जाती है


135. Na Dubaao Mujhe Apni Aankho Ki Gahrayion Mein
Maine Ab Tak Tairna Sikha Hi Nahin Hun

ना दुबाओ मुझे अपनी आंखो की गहराइयों में
मैंने अबतक तैरना सिखा ही नहीं


136. Hajaron Ummedein Ban Jaati Hai Ek Najar Mein
Mujhko Aise Mohaabbat Bhari Aankhon Se Dekha Na Karo

हजारों उम्मीदें बन जाती है एक नजर में
मुझको ऐसे मोहब्बत भरी आंखो से देखा ना कर

Want to enjoy with our Bakwas shayari? Read our 100+ Bakwas Shayari in Hindi


137. Ta Umr De Saka Na Jawab Ek Sawal Ka
Unki Ek Najar Hamse Hajar Sawal Kar Gayen

ता उम्र दे सका ना जवाब एक सवाल का
उनकी एक नजर हमसे हजार सवाल कर गई

HAve you ever got hurt from your loved one? Read our hurt Shayari


138. Wo Kahte The Dekha Karo Aankh Bhar Kar Mujhe
Ab Aankh Bhar Jaaten Hai Magar Wo Najar Nahi Aate

वो कहते थे देखा करो आंख भर मुझे
अब आंख भर जाते है मगर वो नजर नहीं आते


139. Ek Pal Bhi Sukun Nahin Hai Meri Aankhon Ko
Agar Ye Khuli Ho To Taalash Teri Aur Band Ho To Khwab Teri

एक पल भी सुकून नहीं है मेरी आंखो को
अगर ये खुली हो तो तलाश तेरी और बंद हो तो ख्वाब तेरी


140. Chalti Raahon Mein Najre Tu Jhukata Kya Hai
Ek Najar Meri Aankhon Mein Dekh Ke Tera Jaata Kya Hai

aankhen shayari

चलती राहों में तू नजरें झुकाता क्या है
एक नज़र मेरी आंखों में देख के तेरा जाता क्या है


141. Kyun Karte Ho Najron Se Mujhpar Waar
Nanha Sa Dil Mera Ho Jaata Hai Beqaraar

क्यूं करते हो नज़रों से मुझपर पर वार
नन्हा सा दिल मेरा हो जाता है बेकरार


142. Hame Ek Muleqat Ka Mouqa Dedo
Dard Bhari Dil Ki Baat Ka Mouqa De Do
Khushi To De Na Sake Kabhi Mere Dil Ko
In Aankhon Ko Barsaat Ka Mouqa De Do

हमे एक मुलक़ात का मौका दे दो
दर्द भरी दिल की बात का मौका दे दो
खुशी तो दे ना सके कभी मेरे दिल को
इन आंखो को बरसात का मौक़ा दे दो


Najar Ki Andaj Shayari

143. Shayad Tum Khud Waqif Na Ho Apne Najar Ki Andaj Se
Ye Wo Hai Jo Jina Sikha Deti Jise Marne Ka Shouk Ho.

शायद तुम खुद वाकिफ ना हों अपने नज़रों की अंदाज से
ये वो है जो जीना सिखा देती है जिसे मरने का शौक हो

 

Najar Ki Andaj Shayari -Aankhen shayari in Hindi

Najar Ki Andaj Shayari -Ankhen shayari


144. Baat Najro se ho to jubaan chup ho jaati hai
Unki aankho ki baat dil mein utar jaati hai

बात नज़रों से हो तो जुबां चुप हो जाती है
उनकी आंखो की बात दिल में उतर जाती है

aankhen shayari


145. Kambhakt ishq ki chaand ko panah mein rahne do
Aaj Jubaan ko chup rakho aur aankhon ko kahne do

कम्बख़त इश्क़ की चांद को पनाह में रहने दो
आज जुबां को चुप रखो आंखो को कहने दो


146. Jara mere aankhon mein jhak kar to dekh
Kitna plan bana rakha hun tujhe paane ke liye

जरा मेरे आंखों में झांक कर तो देखो
कितना प्लान बना रखा हूं तुझे पाने के लिए


147. Dekhna ho agar apni chehre ki khubsurti
Dekhlo lo meri aankhon mein Teri tasweer bani hai

देखना हो अगर अपनी चेहरे की खूबसूरती
देखलो मेरी आंखों में तेरी तस्वीर बनी है


148. Teri alfazon ki jarurat nahin mujhe
Aankhon ko dekh teri dil ki haal pata kar leta hun -aankhen shayari

तेरी अल्फजो की जरूरत नहीं मुझे
आंखो को देख तेरी दिल का हाल पता कर लेता हूं


149. Wo nadan naqab mein khud ko surakhshit samajhti hai
Unhe shayad maaloom nahi ishq aankhon se shuru hoti hai

वो नादान नक़ाब में खुद को सुरक्षित समझती है
उन्हें शायद मलूम नहीं इश्क़ आंखों से शुरू होती है


150. Hasin aankhon mein utar jaane ka shouq hai mujhko
Mohabbat mein ujadne ke baad bhi adat nahi badalti

हसीन आंखों में उतर जाने का शौक है मुझको
मोहब्बत में उजड़ने के बाद भी आदत नहीं बदलती


151. Aapki aankhen wo Alfaz bolti hai
Jo aapki juban se byan nahin hoti

आपकी आंखे वो अल्फ़ाज़ बोलती है
जो आपकी जुबां से बयां नहीं होती

 

Dil chhu jaane wali Love shayari padhna chahte hain?  Go through our Love Shayari in Hindi


 

Read Funny Jokes