Chand Shayari in Hindi | 75+ best and Beautiful चाँद शायरी

Chaand shayari

The moon reflects the light of the sun. The moon will symbolize time, cycles, psyche, admiration, shadow, and equilibrium. She will represent regeneration, mystery, feelings, instinct, and being passive. The moon symbolizes power, fertility, and change. Sometimes it is required to express your feeling with beautiful words to your loved one and compare with the moon. So here we have provided the best collection of 75+ Chand Shayari, Beautiful Chand Shayari, Chand Shayari for girlfriend/boyfriend/friend, Shayari on the moon, Love Chand Shayari, Chand Shayari for status, and the best Chand Shayari in Hindi and English fonts.

These Shayari will help you to praise your girlfriend/boyfriend/friend. You can increase your impression by comparing the Moon with your girlfriend by these Shayari. Some Sad Moon Shayaries are also there to express your feeling when you are sad.

Let’s enjoy our best Chaand Shayari in Hindi and English fonts. Share it with your friends, and also on Facebook, Instagram, etc.

Best chand shayari in Hindi

Kash Ke Ye Paigam Khuda Tak Pahunch Jay
Ek Chand Asmaan Me Ho Aur Ek Ghar Me Aa Jay

काश के ये पैगाम खुदा तक पहुंच जाए
एक चांद आसमां में हो और एक घर में आ जाए


Dekha Chand Aj Jo Mere Chhat Ki Taraf
Sharma Ke Dub Gaya Maghrib Ki Taraf
Bula Rakha Hun Mai Jo Apne Mahboob Ko
Tare Chamakne Lage Hain Asman Ki Taraf

देखा चांद आज जो मेरे छत की तरफ
शर्मा के डूब गया मगरिब की तरफ
बुला रखा हूं मैं जो अपने महबूब को
तारे चमकने लगे हैं आसमां की तरफ


Fika Pad Jaata Hai Tere Husn Ke Samne Chand
Ae Mere Jaan Parda Me Raha Kar Subh-O-Shaam

फिका पड़ जाता है तेरे हुस्न के सामने चांद
ए मेरे जान पर्दे में रहा कर सुबह व शाम


Tere Husn Ki Chamak Ke Samne Saada Laga
Chaand Pura Tha Magar Phir Bhi Aadha Laga

तेरे हुस्न के सामने सादा लगा
चांद पूरा था मगर आधा लगा


chand shayari in Hindi

Log Kahte Hai  Ke Tu Chand Ka Mukhda Hai
Par Mere Najar Me Chaand Tera Tukda Hai

लोग कहते है तू चांद का मुखड़ा है
पर मेरे नजर में चांद तेरा टुकड़ा है


Jab Kabhi Tera Chehra Najar Na Aaye Mujhko
Dekh Kar Chand Ho Jaati Hai Sabr Mere Dil Ko

जब कभी तेरा चेहरा नजर ना आए मूझको
देख कर चांद हो जाती है सबर मुझको


Mera Aur Chaand Ka Qismat Ek Jaisa Hai
Wo Taaron Mein Akela Aur Main Hajaro Mein Akela

मेरा और चांद का क़िस्मत एक जैसा है
वो तारों में अकेला और मैं हजारों में अकेला


Chand Ne Jab Dekha Mere Mahboob Ko
Kah Diya Mashaallah Mashallah

चांद नें जब देखा मेरे महबूब को
वह भी कह दिया माशाला माशाला


Ek  Pyari Si Dil Ko Churane Ki
Ek Irada Ragon Me Bas Jaane Ki
Chand Sa Husn Tare Sa Chamak
Dil Mein Hai Hasrat Tumhe Paane Ki

एक प्यारी सी दिल को चुराने की
एक इरादा रगों में बस जाने की
चांद सा हुस्न और तारे सा चमक
दिल में है हसरत तुम्हे पाने की


Patthar Ki Duniya Hai Jajbat Nahi Samajhti
Ek Aashiq Ki Dil Ki Halaat Nahi Samajhti
Yun To Chand Akela Rahta Hai Taaro Ke Beech
Magar Chand Ka Dard  Ye Raat Nahi Samjhti

पत्थर की दुनिया है जज़्बात नहीं समझती
एक आशिक़ की दिल की हालात नहीं समझती
यूं तो चांद अकेला रहता है तारों के बीच
मगर चांद का दर्द ये रात नहीं समझती

 

Don’t forget to read our best Love Shayari in Hindi


Meri Aur Chand Ki Kismat Shayari -Chand Shayari

Meri Aur Chand Ki Kismat Milti Julti Hai
Wo Sitaron Mein Akela Aur Mai Hajaro Me

मेरी और चांद की किस्मत मिलती जुलती है
वो सितारों में अकेला और मैं हजारों म अकेला

chand shayari in Hindi

chand shayari in Hindi


Kitna Hasin Chand Sa Chehra Hai,
Uspe Shabab Ka Rang Gehra Hai,
Khuda Ko Yakeen Na Tha Wafa Pe,
Tabhi Chand Pe Taaro Ka Pehra Hai.

कितना हसीन चांद सा चेहरा है
उसपे शबाब का रंग गहरा है
खुदा को यक़ीन ना था वफा पे
तभी तो चांद पर तारों का पहरा है


Dekho Kaise Muskura Raha Hai Chand
Kuch To Chupa Raha Hai Chaand

देखो कैसे मुस्कुरा रहा है चांद
कुछ तो छुपा रहा है चांद


Chand Kah Kar Gaya Tha Roushni Dega Mere Ghar Me
Isliye Bin Jalaye Chiraag Ghar Mein Baitha Hun Aj Main

चांद कह कर गया था के रौशनी देगा मेरे घर में
इसलिए बिन जलाए चिराग घर में बैठा हूं आज मैं


Na Uthi Najar Kabhi Upper Chand Ki Taraf
Jo Ghar Mein Tera Tashreef Ho Gaya Hai Ab

ना उठी नजर कभी चांद की तरफ
जो घर में तेरा तशरीफ़ हो गया है अब


Beautiful chand shayari

Muntajir Hun Ki Taaron Ko Jara Aankh Lage
Chand Ko Bula Loonga Angan Me Ishara Kar Ke

मुन्तजिर हूं कि तारों को जरा आंख लगे
चांद को बुलालूंगा आंगन में इशारा कर के


Tera Chehra Jo Chamakne Laga Raaton Mein
Chand Ki Jarurat Na Padi Mujhko Raahon Mein

तेरा चेहरा जो चमकने लगा रातों में
चांद की ज़रूरत ना पड़ी मुझको राहों में


Na Aasman Chahiye Na Falak Chahiye
Mujhe To Bas Teri Ek Jhalak Chahiye

ना आसमां चाहिए ना फलक चाहिए
मुझे तो बस तेरी एक झलक चाहिए


Kon Kahta Hai Ke Chand Ki Koi Missal Nahi
Mere Mahboob Se Najre Mila Le Chand Ki Itni Malal Nahi

कोन कहता है कि चांद की कोई मिसाल नहीं
मेरे महबूब से नजरे मिलाले चांद की इतनी मलाल नहीं


Ek Wo Chand Jo Chhipa Na Saka Apni Daag Jahan Ke Samne
Ek Mera Chand Jis Par Koi Daag Ki Naam-O-Nishan Nahi

एक वो चांद जो छिपा ना सका अपनी दाग जहां के सामने
एक मेरा चांद जिसपे दाग की कोई नामो निशान नहीं


Jine Ki Tamanna Ab Badh Gayi Hai Mujhko
Chand Ka Tukda Jo Khuda Ne Jamin Par Bhej Rakha Hai

जीने की तमन्ना अब बढ़ गई है मुझको
चांद का टुकड़ा जो खुदा ने जमीं पर भेज रखा है


Chand Shayari Image

Besahara Aur Toota Sa Lagta Hu
Sataye Hue Gham Ghuta Sa Lagta Hu
Jab Se Maine Chand Lo Bhi Tuta Dekha
Ab Mein Khud Se Jhuta Sa Lagta Hun

बेसहारा और टूटा सा लगता हूं
सताए हुए गम घूटा सा लगता हूं
जब से मैंने चांद को भी टूटा देखा
अब मैं खुद से झुटा सा लगता हूं

chand shayari in English font

chand shayari in English font


Hajaron Tare Fiqa Hai Ek Chand Ke Samne
Aur Chand Fika Hai Mere Jaan Ke Samne

हज़ारों तारे फीका है एक चांद के सामने
और चांद फीका है मेरे जान के सामने


Kitna Bhi Ishq Karle Chand Se Ae Raat
Tere Muqaddar Mein Andhera Hi Likha Hai

कितना भी इश्क़ करले चांद से ए रात
तेरे मुकद्दर में अंधेरा ही लिखा है


Ishq Me Jhuk Jaana Koi Galat Baat Nahi
Chamakta Suraj Bhi To Dub Jaata Hai Chand Ki Liye

इश्क़ में झुक जाना कोई ग़लत बात नहीं
चमकता सूरज भी तो डूब जाता है चांद के लिए


chand shayari 

Bechain Kuch Is Qadar Tha Ki Soya Na Raat Bhar
Ungliyon Se Likh Raha Tha Tera Naam Chand Par

बेचैन कुछ इस क़दर था कि सोया ना रात भर
उंगलियों से लिख रहा था तेरा नाम चांद पर


Ji Bhar Ke Dekh Lun Jara Unko
Chand Hain, Kabhi Kabhi Najar Aate Hain

जी भर के देख लूं जरा उनको
चांद हैं कभी कभी नजर आते हैं


Chand Shayari in English

Tujhe Chand Ko Mangne Ki Jarurat Nahi Hai Meri Jaan
Tumhe Khud Ko Pahchanne Ki Jarurat Hai Meri Jaan

तुझे चांद को मांगने की जरूरत नहीं है मेरी जान
तुम्हें खुद को पहचानने की जरूरत है मेरी जान


Maine Isi Intejar Mein Gujar Li Sari Raat
Ke Chand Niklega Kuch Raat Gujar Jaane Ke Baad

मैंने इसी इंतेज़ार में गुजार ली सारी रात
के चांद निकलेगा कुछ रात गुजर जाने के बाद


Chand Ki Roushni Ki Jarurat Nahin Ab Mujhko
Kyunki Tum Jo Mere Ghar Ko Tashreef Laaye Ho

चांद की रोशनी की ज़रूरत नहीं है अब मुझको
क्यूंकि तुम जो मेरे घर को तशरीफ़ लाए हो


Ap Kuch Is Tarah Mere Dil Mein Aaye Ho
Jaise Chandni Agayi Ho Andheri Raaton Mein

आप कुछ इस तरह मेरे दिल में आए हो
जैसे चांदनी आ गई हो अंधेरी रातों में


Har Raat Bitayee Hai Kuch Isi Yaadon Mein
Chand Ayega Kabhi To Mere Darwajon Pe

हर रात बीताई है कुछ इसी यादों में
चांद आएगा कभी तो मेरे दरवाजों पे

What is the saying about a full moon?

Full Moon Quotes. “The full moon – the mandala of the sky.” “I swear, the reason for full moons is so the gods can more clearly see the mischief they create. There is something haunting in the light of the moon it has all the dispassionate of a disembodied soul, and something of its inconceivable mystery.


Recommended reading Sad Shayari in Hindi


Tanha to chand Shayari -Chand Shayari

Pyar Ki Duniya Dil Ki Jajbat Nahi Sakti
Dil Mein Kya Hai Wo Baat Nahi Samajhti
Tanha To Chand Bhi Rahta Hai Taron Ke Beech Mein
Par Chand Ka Dard Wo Raat Nahi Samajhti

प्यार की दुनिया दिल की जज़्बात नहीं समझती
दिल में क्या है वो बात नहीं समझती
तनहा तो चांद भी रहता है तारों के बीच में
पर चांद का दर्द वो रात नहीं समझती

chand shayari in Hindi

chand shayari in Hindi


Ae Asman Agar Gurur Hai Tujhe Us Chaand Pe
To Dekh Aj Chaand Mere Ghar Tashreef Layen Hain

ए आसमां अगर गुरूर है तुझे उस चांद पे
तो देख आज चांद मेरे घर तशरीफ़ लाए हैं


Chand Taaron Mein Najar Aaye Chehra Apka
Jab Se Hua Hai Mere Dil Par Pahra Aapka

चांद तारों में नजर आए चेहरा आपका
जब से हुआ है मेरे दिल पर पहरा आपका


Raat Mein Nigahe Uthi To Chand Dikha
Fir Pata Chala Wo Chehra Aapka Tha

रात में निगाहे उठी तो चांद दिखा
फिर पता चला वो चेहरा आपका था


Tu Chand Aur Main Sitara Hota
Asman Mein Ek Ashiyana Hamara Hota
Tumhen Log Dur Se Dekha Karte
Najdik Se Dekhne Ka Haq Sirf Hamara Hota

तू चांद और मै सितारा होता
आसमां में एक आश्याना हमारा होता
तुम्हें लोग दूर से देखा करते
नजदीक से देखने का हक सिर्फ हमारा होता


Ae Chand Tere Zakhm Puraane Nikle
Kayi Gam The Jo Tere Gam Ke Bahane Nikle

ए चांद तेरे ज़ख्म पूराने निकले
कई गम थे जो तेरे गम के बहाने निकले


Jab Ho Jaata Hai In Aankhon Ko Tera Didar
Sach Kahun To Wo Din Lagta Hai Ek Bada Tyuhaar

जब हो जाता है इन आंखों को तेरा दीदार
सच कहूं तो वो दिन लगता है एक बड़ा त्योहार


Khwab Dekhne Ki Mujhe Khawish Nahi
Mai To Raat Gujarta Chand Dekhte Dekhte

ख्वाब देखने की मुझे ख्वाहिश नहीं
मै तो रात गुजारता हूं चांद देखते देखते


chand shayari for status

Chand Se Pyari Chandni Aur Chandni Se Pyari Raat Hai
Raat Se Pyari Jindagi Aur Jindagi Se Pyari Aap Hain

द से प्यारी चांदनी और चांदनी से प्यारी रात है
रात से प्यारी जिंदगी और जिंदगी से प्यारी आप हैं


Rab Ne Tera Ek Tukda Asman Me Chhod Diya
Log Kahte Hain Dekho Chand Niklaa Hai Asman Mein

रब ने तेरा एक टुकड़ा आसमां में छोड़ दिया
लोग कहते है देखो चांद निकला है आसमां में


Na Samajh Dil Ye Ek Galti Kar Baitha
Bin Puche Mujhse Ye Faisla Kar Baitha
Tuta Sitara Bhi Nahi Girta Kabhi Is Zamin Par
Kambakht Dil Chand Se Hai Ishq Kar Baitha

ना समझ दिल ये एक गलती कर बैठा
बिन पूछे मुझसे ये फैसला कर बैठा
टूटा तारा भी नहीं गिरता ज़मीन पर
कम्बख़त दिल चांद से है इश्क़ कर बैठा

Look at our best Aankhen shayari in Hindi


Chand ka chehra Shayari -Chand Shayari

Kitna Hasin Chand Ka Chehra Hai
Uski Khubsurti Bahut Hi Gahra Hai
Khuda Ko Yaqeen Nahi Thi Wafa Par Shayad
Isiliye Chaand Par Taron Ka Pahra Hai

कितना हसीन चांद का चेहरा है
उसकी खूबसूरती बहुत ही गहरा है
खुदा को यकीन नहीं थी वफा पे शायद
इसीलिए चांद पर तारों का पहरा है

chand shayari

chand shayari


Bina Chahe Labon Par Faryaad Aa Jaati Hai
Ae Chand Tere Samne Aane Se Kisi Ki Yaad Aa Jati Hai

बिन चाहे लबों पे फरयाद आ जाती है
ए चांद तेरे सामने आने से किसी की याद आ जाती है


Na Gila Hai Na Sikwa Hai Kabhi Kisi Se
Chand Bhi Sharma Jay Tumhari Hansi Se

ना गिला है ना शिकवा है कभी किसी से
चांद भी शरमा जाए तुम्हारी हंसी से


Zamane Ko Hasrat, Shohrat Aur Dhan Chahiye
Mujhe To Chand Sa Chamakta Tera Badan Chahiye

ज़माने को हसरत, शोहरत और धन चाहिए
मुझे तो चांद सा चमकता तेरा बदन चाहिए


Chand Sa Chehra Jamin Pe Rab Ne Jisko Di Hai

Uski Mohabbat Mere Dil Mein Beshumar Bhar Di Hai

चांद सा चेहरा जमीन पर रब ने जिसको दी है
उसकी मोहब्बत मेरे दिल में बेशुमार भर दी है


Nigahon Mein Mohabbat Hain Aur Dil Mein Awargi
Chand Sa Mukhda Liye Aati Hai Mere Gali Mein Wo Ladki

निगाहों में मोहब्बत है और दिल में आवारगी
चांद सा मुखड़ा लिए आती है मेरे गली में वो लड़की


Chand Ki Mohabbat To Jara Dekho
Karj Leke Roushni Deta Hai Jamin Ko

चांद की मोहब्बत तो जरा देखो
कर्ज लेके रौशनी देती है जमीं को


Falak Par Hamesha Chand Tare Rahenge
Apki Amad Pe Phulon Ki Baharen Rahenge
Badalna Hai To Badal Jaye Ye Sara Jahan
Ham To Hamesha Apke Diwane Rahenge

फलक पर हमेशा चांद तारे रहेंगे
आपकी आमद पर फूलो की बहारे रहेंगे
बदलना है तो बदल जाए ये सारा जहां
हम तो हमेशा आपके दीवाने रहेंगे


chand shayari for GF

Hajaron Hain Mere Dost Magar Taaron Ki Tarah
Par Ap Ki Dosti Hai Us Chand Ki Najaron Ki Tarah

हजारों है मेरे दोस्त मगर तारों की तरह
पर आपकी दोस्ती है उस चांद की नज़ारों की तरह


Chand Ke Bina Bhi Chandni Raat Hai
Kyunki Aap Jo Aj Mere Sath Hai

चांद के बिना भी चांदनी रात है
क्यूंकि आप जो आज मेरे साथ हैं


Har Insan Ko Chand Se Pyar Hai
Magar Chand Ko Hamse Pyar Hai

हर इंसान को चांद से प्यार है
मगर चांद को हमसे प्यार है

 

Want to enjoy with our Bakwas shayari? Read our Bakwas Shayari in Hindi


Teri surat me chand ki chandni :

Teri Surat Me Chand Ki Chandni Najar Ajay
Teri Har Yadon Mein Dil Betaab Ho Jay
Har Lamha Teri Khyaalon Me Duba Rahu
Sirf Ek Bar Dil Se Tera Didar Ho Jay

तेरी सूरत में चांद की चांदनी नजर आए
तेरी हर यादों में दिल बेताब हो जाए
हर लम्हा तेरी यादों में डूबा रहूं
सिर्फ एक बार दिल से तेरा दीदार हो जाए

Teri surat me chand ki chandni -chand shayari

Teri surat me chand ki chandni -chand shayari


Ugta Suraj Ye Nasihat Deta Hai
Karj Ki Roushni Jyada Der Tak Nahi Tikti

उगता सूरज ये नसीहत देता है
कर्ज की रौशनी ज्यादा देर तक नहीं टिकती


Haare Nahin Hain Magar Chal Rahen Hai
Tut Gayen Hai Magar Fisal Rahen Hai
Pahunch Jau Bas Ek Bar Chand Par
Ye Arzoo Liye Hatho Ko Mal Rahen Hain

हारे नहीं है मगर चल रहे हैं
टूट गए हैं मगर फिसल रहें हैं
पहुंच जाऊं बस एक बार चांद पर
ये आरज़ू लिए हाथो को मल रहें हैं


Chamak Itna Banao Ki Log Daag Bhul Jaye Chaand Ki Tarah

चमक इतना बनाओ की लोग दाग भूल जाए चांद की तरह


chand shayari for BF

Jagti Rah Gyi Raat Bhar Isi Ummeed Mein Ki
Chaand Chal Raha Hai To Ayega Mere Chat Par Bhi

जागता रह गया रात भर इसी उम्मीद में की
चांद चल रहा है तो आएगा मेरे छत पर भी


Apki Khubsurti Ki Tulna Kya Chand Karegi
Rab Ne Aap Jaisa Kisi Ko Banaya Hi Nahi

आपकी खूबसूरती की तुलना क्या चांद करेगी
रब ने आप जैसा किसी को बनाया ही नहीं


Ae Chand Jarurat Nahi Ab Teri Is Zamin Par
Mera Mahboob Ab Mere Paas Agya Hai

ए चांद जरूरत नहीं अब तेरी इस जमीं पर
मेरा महबूब अब मेरे पास आ गया है


Dubte Chand Ne Isharo Se Kuch Kaha
Jaata Hun Main Mujhe Yaad Rakhna
Jarurat Padi Agar Roushni Ki Kabhi
Mere Ishq Se Ek Chirag Jala Lena

डूबते चांद ने इशारों से कुछ कहा
जाता हूं मैं मुझे याद रखना
जरूरत अगर पड़ी रौशनी की कभी
मेरे इश्क़ से एक चिराग जला लेना


Poochho Us Chand Se Kaise Tadapte The Ham
Rote The, Bilakte The, Sisakte The Ham
Kon Suntan Bhala Mere Tute Dil Ki Kahani
Chand Se Raaton Me Apni Baat Kahte Ham

पूछो उस चांद से कैसे तड़पते थे हम
रोते थे, बिलक्ते थे, सिसकते थे हम
कोन सुनता भला मेरे टूटे दिल की कहानी
चांद से रातो में अपनी बात कहते थे हम


Love chand shayari

Kabhi To Chnad Aur Ham Ek Sath Ho Jaye
Hasin Bhari Yaadon Ki Ek Baat Ho Jaye
Bataunga Jindagi Ke Har Lamhe Ki Bat Unse
Anjane Me Hi Sahi Kabhi Unse Muleqat Ho Jay

कभी तो चांद और हम एक साथ हो जाए
हंसी भरी यादों की एक बात हो जाए
बताऊंगा जिंदगी की हर लम्हे की बात उनसे
अनजाने में ही सही कभी उनसे मूलेकात हो जाए


Khahish Hai Ke Bahut Preshaan Karu
Chand Ko Bhi Ek Bada Intehaan Lun
Gar Fail Ho Jay To Saja-E-Mout De Du
Tute Dil Ki Dard Ka Ek Maja Chakha Dun

ख्वाहिश है के बहुत परेशान करूं
चांद को भी एक बड़ा इम्तेहान लूं
गर फैल हो जाए तो सजा ए मौत दे दूं
टूटे दिल की दर्द का एक मजा चखा दूं

Did you get hurt from your loved one? Read our hurt Shayari


Na chand ki chandni chahiye na taron ki chamak chahiye
Main tera diwana hun mujhe teri ek jhalak chahiye

ना चांद की चांदनी चाहिए ना तारों की चमक चाहिए
मै तेरा दीवाना हूं मुझे तेरी एक झलक चाहिए


Chand ka diwana hun mai chand ki chandni chahiye
Na ji sakta tere bin ke teri ishq ki chasni chahiye

चांद का दीवाना हूं मैं चांद की चांदनी चाहिए
ना जी सकता तेरे बिन के तेरे इश्क़ की चाशनी चहिए


Fark nahi padta mujhe duniya ke koi baton se
Wo ghayal kar dete hain mujhe sirf apne aankhon se
Chand de na saka kabhi ek hissa apne daman ka
Jamin mangti rah gayi apni gahri raaton se

फर्क नही पड़ता मुझे दुनिया की कोई बातों से
वो घायल कर देते हैं मुझे सिर्फ अपने आंखों से
चांद दे ना सका कभी एक हिस्सा अपने दामन का
जमीं मांगती रह गई अपनी गहरी रातों से


Tujhko dekha to najre kabhi upper na uthaya
Chand kahta rah gaya main idhar hun main idhar hun

तुझको को देखा तो नजरे कभी उपर ना उठाया
चांद कहता रहा मैं इधर हूं मैं इधर हूं


Choudahwi ki chand mein hua tha charcha tera
Logo ne kaha ya chand hai, maine kaha ye hai chehra tera

चौदहवीं की चांद हुआ था चर्चा तेरा
लोगो ने कहा ये चांद है मैंने कहा ये है चेहरा तेरा


Ae chand bata tu kyun jaga karta hai
Kyu asmano ki chakkar lagaya karta hai
Main to diwana hun unke ishq mein magar
Kya tubhi kisi se bepanah mohabbat karta hai?

ए चांद बता तू क्यों जगा करता है
क्यों आसमानों की चक्कर लगाया करता है
में तो दीवाना हूं उनके इश्क़ में मगर
क्या तभी किसी से बेपनाह मोहब्बत करता है


Aao jara chand ka qirdar to dekhe
Daag apne paas rakh kar roushni baant diya karta hai

आओ जरा चांद का किरदार तो देखे
दाग रखकर रौशनी बांट दिया करता है

Want to read more? Check these chand shayari


Chand shayari Ghalib

Rago Mein Dodte Phirne Ke Ham Nahin Qayal
Jab Aankh Se Hi Na Tapka To Fir Lahoo Kiya Hai

रगों में दौड़ते फिरने के हम नहीं क़ायल
जब आँख ही से न टपका तो फिर लहू क्या है


Jagao na mujhe ke mai dekh raha hun
Chand ke aagosh mein aankhe sek rahan hun
Yun to najar aate nahin haqiqat mein kabhi
Sapna hi sahi magar main unhe dekh raha hun

जगाओ ना मुझे के मैं देख रहा हूं
चांद के आगोश में आंखें सेक रहा हूं
यूं तो नजर आते नहीं हकिकत में कभी
सपना ही सही मगर मैं उन्हें देख रहा हूं


Ek chand hi tha jo dil ko tasalli diya karta tha
Aj Badalon ne bhi rok liye mujhe didar karne se

एक चांद ही था जो दिल को तसल्ली दिया करता था
आज बादलों ने भी रोक लिया मुझे दीदार करने से


Gurur tha chand ko apne chamak par
Chup gaya badlo mein jab aaye wo mere chat par

गुरूर था चांद को अपने चमक पर
छुप गया बादलों में जब आए वो मेरे छत पर

Read our best Mausam Shayari